A Best Hindi Love Story Site We have sad and best hindi love story

Awesome Year Ahead

Best short Hindi love story. You can read here best hindi love story and top sad love story by hindi love story web site we provide hidni best love story

Breaking

Friday, July 26, 2019

Hindi Love Story Ek Ladke Ke Pyar ki Kahani


Love Story By Arjun Rima Simran And Aniket Romantic Story





Hindi Love Story दोस्तो मेरा नाम अर्जुन है मुझे बचपन से ही बाहर रहने का शोक था मैं दिल्ली के महिपालपुर में रहता हूं एक रोज मैं जब दिल्ली से अपने गाँव हिमाचल की तरफ जा रहा था तो मैंने देखा रेलवे स्टेशन पर एक बोहोत ही खूबसूरत सी लड़की खड़ी हुई थी उसकी आंखें मानो जैसे कोई पारी ज़मीन पर उतर आई हो लेकिन मैंने उसकी तरफ इतना ध्यान नही दिया और ना ही उसने मुझे देखा थोड़ा समय बीतने के बाद वहाँ ट्रैन आ गयी मैं अपनी जगह जाकर बैठ गया मैन देखा वो लड़की ठीक मेरे सामने बैठी थी मैन अपना मोबाइल निकाला और उसमें गेम खेलने लगा थोड़ी देर तक मैं युही PUBG खेलता रहा उसका ध्यान फिर मेरी तरफ गया वो एक बार मेरी तरफ देखती ओर फिर कहीं और देखने लग जाती मैंने अपना मोबाइल बंद कर दिया और बाहर की तरफ देखने लगा मुझे थोड़ी नींद भी आ रही थी लेकिन मैं सोया नही एक बार मैंने सोचा कि पूछ लेता हूं आप कहाँ जा रहे हो लेकिन फिर हिम्मत नही हो पाई आखिर वो बीच मे ही उतर गई जिस वक्त वो उतरी मेरा दिल थोड़ा दुखी था लेकिन मैंने खुद को समझाया की ये सब तो चलता रहता है.





Hindi Love Story
Hindi love story




एक बार को तो मेरा दिल ऐसा हो गया कि मैं उसके साथ उतर जाऊ लेकिन ऐसा सिर्फ फिल्मो में होता है रियल लाइफ में नही ओर मैं शान्ति से बैठ गया , जहाँ वो बैठी थी फिर मेरी नजर उस जगहा पर पड़ी वो अपनी एक किताब भूल गयी जिसे वो शायद पढ़ रही थी मैंने उसको उठाया और खोलकर देखने लगा, किताब के कुछ पन्नो पर एक नाम लिखा हुआ थस अनिकेत ओर रीमा , मैं समंझ गया ये इस लड़की के boyfriend का नाम है और रीमा इस लड़की का मैन वो किताब वही फैक दी और अपने स्टेशन पर आकर उतर गया फिर दिल मे आया कि उठा लेता हूं यार क्या पता किसी काम ही आ जाये , दौड़कर वापस गया और किताब उठा कर ले आया. घर जाकर वो किताब मैन अपनी किताबो में रख दी मैन सोचा Facebook पर उस लड़की का नाम search करके देखता हूं लेकिन वहाँ से भी कुछ नही मिला एक दो हफ्ते गुज़र गए मैं लगभग उस लड़की और उस किताब के बारे में भूल ही चुका था.





लेकिन एक रात मेरे मन मे ना जाने क्या आया बस उसी जगहा चल दिया जहाँ वो लड़की उतरी थी , उस स्टेशन तक तो पौचना आसान था लेकिन उस लड़की तक बोहोत मुश्किल लेकिन कहते है ढूंढने से तो god (भगवान) भी मिल जाते है तो मैं बस उसे ढूंढने लगा उसकी book वापस करने की मन मे ठान ली बस चार दिन यू ही गुज़र गए वहाँ रहते रहते hotel के रूम का खर्चा भी ज्यादा पड़ रहा था मैंने सोचा कोई room rent पर ले लेता हूं तो शायद खर्चा कम हो ओर एक दो company में interview दे दिया.. बस मैन वही रहने का पूरा मन बना लिया वहाँ के एक दो लोगो से बात करने पर घर तो मिल गया मैंने रहना शुरू कर दिया जिन अंकल का घर था उनकी भी एक बेटी थी वो लगभग 18 साल की होगी. वो उसी टाइम कॉलेज जाती थी और मैं अपनी जॉब पर





मैं ऑटो वगैरा से निकलता था और वो scotty से हुम् दोनो ने कभी एक दुषरे से बात नही की थी लेकिन एक दिन वो मुझे बीच राश्ते में मिल गयी मैं ice cream खा रहा था वो रुकी ओर मेर पास आई मैंने कहा आपको भी खानी है क्या? उसने कहा जी आप तो अकेले ही खाते हो , मैन कहा नही यार आप भी ले लो और मैन उसे भी एक ice cream दे दी मैंने जल्दी खा ली थी तो मैं वहाँ से जाने लगा उसने कहा रुको मेरे साथ ही चलना , अगर घर जा रहे हो, कोई काम है तो चले जाओ मैंने कहा नही कोई काम नही है , फिर मैंने पूछा कि आपका नाम क्या है उसने बताया कि सिमरन , ओर हँसने लगी कहने लगी की आपको ये भी नही पता क्या ,,





मैं चुप हो गया और फिर हम दोनों साथ साथ घर की तरफ आने लगे उसने मुझे घर से कुछ दूर पहले ही उतार दिया ओर कहा कि dady गुस्सा होंगे आप यहाँ से चलकर आ जाओ , अब शुभा को वो मुझे वही से ले जाती थी और वही उतार देती थी , कभी ice cream कभी pizza दोनो साथ मे ही खाते थे लेकिन मेरे दिल मे उसके लिए कोई feelings नही थी एक दिन मैं ऐसे ही उसका mobile चेक कर रहा था तो मैंने देखा उसी लड़की का whatsapp पर फ़ोटो लगा था जो मुझे ट्रेन में मिली थी उसका नाम दिव्या लिखा था और बाद में दीदी ,, मैन पूछा ये कोन है तो उसने जवाब दिया के मेरे ताऊ जी की लड़की है मैंने तुरंत कह दिया मुझे एक बार इनसे मिलना है मेरे पास इनकी किताब है , वो कहने लगी आपके पास कैसे है , मैन कहा लंबी कहानी है , तो उसका चेहरा उत्तर गया ओर कहने लगी ठीक है मिला दूंगी ,





You Are Reading Sad Story











अगले दिन मैं ओर सिमरन उस से मिलने चल दिये लेकिन मैं ये सोच कर हैरान था कि किताब में तो अनिकेत ओर रीमा लिखा था लेकिन सिमरन ने whatsapp पर दिव्या क्यो लिखा हुआ है मैन सीधा सिमरन से पूछ लिया कि उनका नाम पक्का दिव्या ही है वो कहने लगी हा लेकिन तुमने मुझे पहले क्यो नही बताया कि आप दोनों मिल चुके हो , तो मैंने उसे सारि कहानी बता थी कि वो मुझे कहा कैसे मिली वो समंझ गयी हम दोनो के बीच कुछ नही है , जब मैं दिव्या से मिला तो वो मेरा चेहरा तक भूल चुकी थी सारि बातें बताने पर उसके याद आया,, book उसको दे दी लेकिन दिव्या फिर पूछने लगी के सिमरन ये आपको कहा मिले और ये सब क्या हो रहा है तो सिमरन ने दिव्या को मेरे बारे में बता दिया





अब बात यह थी के अनिकेत ओर रीमा कौन है पूछने पर उसने बताया कि ये book उसकी किसी friend की थी मैं ओर सिमरन वापस घर के लिए आने लगे मैंने दिव्या का नंबर सिमरन के mobile से ले लिया था , रात को मैंने दिव्या को मैसेज किया और हम दोनों कुछ हु दिनों में अच्छे दोस्त बन गए मगर इधर सिमरन को कुछ नही पता था की मै Divya से बात करता हु लेकिन एक दिन उसने मेरा mobile देखा और msg पढ़े उसे गुस्सा नही आया क्योकि मैंने Divya से कोई ऐसी बात की ही नही थी मगर वो थोड़ी परेसान जरूर हो गयी थी , वो मुझसे कहने लगी के शाम को मेरी एक फ्रेंड का जन्मदिन है उसमें जाना है आज घर जाने में 11:00 बज जाएंगे मैंने dady को बोल दिया है ,,





मैं मना भी नही कर पाया हम दोनो शाम को सीधा birthday में जाने के लिए निकल पड़े लेकिन वो मुझे एक होटेल में ले आयी बोहोत ही खूबसूरत था पता नही उसके मन मे क्या था हम दोनों ऊपर गए और उसने मुझे गले से लगा लिया कहने लगी के वो मुझसे शादी करना चाहती है , मैं खुश था क्योंकि सिमरन जैसी लड़की मुझे कहीं नही मिलेगी जो मेरे साथ इतने दिन से है और वैसे भी उसी ने मुझसे प्यार का इज़हार किया था ,







मैन सिमरन की तरसफ़ देखा बोहोत ही मासूम सा चेहरा आंखों में अजीब सा नशा था और होठो पर सिर्फ एक ही बात थी के आज वो बोहोत खुश है वो घंटों तक तो यू ही मुझे गले से लगाये खड़ी रही






फिर मैंने ही उस से कहा कि सिमरन आज घर नही जाना है क्या dady बोहोत पिटाई कर देंगे तुम्हारी वो कहने लगी जाना है लेकिन ये पल बोहोत ही खूबसूरत है मैं इन्हें ऐसे ही बर्बाद नही कर सकती , हम दोनों ने वहाँ बोहोत सारे वादे किए , जन्मदिन किसी का भी नही था ये सब सिमरन का प्लान था ,, मैन Divya का नंबर अपने मोबाइल से Delete कर दिया अब जो भी है मेरे लिए बस मेरी सिमरन है और उसे पाने के लिए मैं कुछ भी करूँगा ,,,














1 comment:

Note: Only a member of this blog may post a comment.