Best Short Hindi Love Story

एक सचे प्यार की कहानी :

यह एक True love story है जिसमे एक लड़के (रोहन) और एक लड़की (पूनम) की Love story का उलेख किया गया है |

रोहन अपनी M.A. की पढाई पूरी करने के बाद नोकरी की तलाश में अपने एक गाव के दोस्त के साथ UP से मुंबई आ गया. और बहुत घुमने फिरने के बाद उसे अंतत एक कॉल सेण्टर मे नोकरी भी मिल गई जिसके दम पर वह महीने का कुछ १५००० तक कमा लेता था. जो की कुल मिलाकर ठीक ठाक था |

नोकरी मिलने के बाद रोहन ने नजदीक ही कमरा लेकर रहने की सोची और अपने नये दोस्तों से सम्पर्क करके उसे एक कमरा मिल भी गया | रोहन का मकान चार मंजिला इमारत के सबसे उपरी मंजिल पर था जिसके बगल में बहुत सारी अन्य उची उची इमारते थी | एक दिन हरसुबह की तरह रोहन छत पर चाय की सुबकिया लेते हुए सुबह की रोशनी का आनंद ले रहे थे की उसे अपनी बगल वाली इमारत पर एक खुबसुरत लड़की नजर आई जो उसकी और देख रही थी | लड़की देखने में बहुत ही खुबसुरत थी और उसके सामने वह सुभ की रोशनी भी फीकी पड रही रही थी |

अब रोहन भी उस लड़की की और नजर गडा ली , क्योकि लड़की थी ही इतनी सुन्दर की नजर उस को ही देखती रहे |थोड़ी देर बाद लडकी उसकी तरफ मुस्कुरा क्र चली गई ! रोहन को अब एसा लगने लगा की सायद लड़की उसे लिखे करने लगी है |और फिर हर रोज उसे देखने छत पर आता और हर रोज दोनों एक दुसरे को आँखों ही आँखों से निहारते |

बहुत समय बित गया’ अब रोहन के मन में उससे मिलने और बात करने की इच्छा होने लगी | कैसे भी करके रोहन न्र उसके बारे में पता किया तो उस लडकी का नाम पूनम था और वह B.A. के अंतिम चरण में पढ़ती थी और साथ में computer diploma की पढाई भी कर रही थी |

READ  Hindi Love Story in Short | True Love Story in Hindi | Hindi True Love Story

रोहन उससे मिलने के लिए रोज अपनी जॉब से कुछ समय पहले आ जाता था क्योकि उस समय वह अपनी पढाई पूरी करकर घर लोट रही होती थी | जब वः उसके सामने से गुजरती तो उसे अपने सामने देख कर भी वह उससे बोल नही पाता था | और न ही रोहन उससे बात करने की हिमम्त कर पाता, रोहन अब उसे बहुत चाहने लगा और उसकी यादो में दिन रात खोया रहता और उसे उसका ही चेहरा दिखाई देता | अब रोहन पर पूनम की यादो का असर इतना ज्यादा होने लगा की वः अपने ऑफिस के काम में भी मन नही लगा पता |

best hindi love story

एसा ही करते करते बहुत टाइम बित गया ओर अब तो कभी कभी कम में गड़बड़ होने के कर्ण बोस भी उसको डट देते थे ओर इसी के चलते अब उसका दिल धीरे धीरे भरी होता चला गया और इतना टाइम बीतने के बाद भी वः अपने प्यार का इजहार भी नही कर पाया था |प्यार भी करता था और कहने से भी डरता था |

कुछ समय बाद रोहन ने देखा की पूनम हर रोज की तरह आज भी अपनी बालकनी में खड़ी है लेकिन वह मानो हटो से कुछ संकेत कर रही है | बहुत देर बाद रोहन को पता चला की वह उसे पास के एक ढाबे पर बुला रही है , अब टॉप रोहन के मनो पंख लग गये हो और वह बड़ी फुर्ती से दैनिक कम निपटा कर गुनगुनाते हुए ऑफिस चला गया और मन ही मन उसके सामने प्यार का इजहार करने के विचारो की उधेड़बुन में खो गया |

READ  Shayari in Hindi For Love | Latest Shayari in Hindi

प्यार से मिलने का वक्त

शाम का वक्त आ गया और रोहन ऑफिस से रोजाना की तरह आज भी जल्दी आकर खुद को एक बड़े आसिक की तरह सजाने लगा और अंततः बताये टाइम के अनुसार ढाबे पर पहुच गया , और मन ही मन सोप्चने लगा की आज उसके प्यार को सहारा मिल जायेगा और Love story पूरी हो जायेगी , लेकिन सायद किस्मत को कुछ और मंजूर था |

थोड़ी देर बाद वो लडकी आई और और रोहन उसको देख कर मुस्कुराने लगा क्योकि रोहन के मन में प्यार के लड्डू फुट रहे थे , लड़की पास आई और उससे पहले की रोहन बोले लड़की बोली I am sorry सायद आप मुझे चाहते है या नही लेकिन में आपसे प्यार नही करती ,इतना कहते ही रोहन तो मनो फासी के तख्ते पर झूल गया हो | वः सोचे भी तो उससे कुछ बोला नही जा रहा था बस लड़की अपनी बेवफाई सब्दो के माध्यम से झाड़ कर चली गई और रोहन के सपनो का वह स्वर्णिम महल चाँद ही सब्दो के तूफान में ढह गया |

कुछ देर बाद जब रोहन को अहसास हुआ तो वह अपने प्यार के टूटे परो से फडफडाता हुआ कैसे जैसे अपने रूम पर वापस लोटा और खूब रोया और बिना खाना खाए ही सो गया क्योकि अगर किसी के प्यार का एसा अंत हो तो सायद ही भूख लगे |

दूसरी सुबह आज रोहन छत पर नही गया और उसने अब नोकरी और जगह दोनों छोड़ने का फैसला के लिया और किसी दूसरी जगह जाकर पार्ट टाइम जॉब करने लगा और अपनी पढाई में लींन हो गया और इसी वर्ष उसके व्याख्याता के पद जिसके लिए उसने आवेदन किया था पर भर्तिया खुल गई और अब रोहन का धयान केवल पढाई में था और खुस्नासिबी से उसका selection उस भारती मर अछे नम्बरों से हो गया और मुंबई के ही किसी एक बड़े महाविध्यालय में उनका चयन हो गया |

READ  Hindi Love Story in Short | True Love Story in Hindi | Hindi True Love Story

आज रोहन का पहला दिन था अपने जॉब का इसलिए इस संदर्भ में वेलकम पार्टी थी ,और पूरी स्कूल बड़े चाव से इसे आयोजित कर रही थी | स्कूल में topper इस कार्यकर्म का संचालन कर रही थी|

रोहन जैसे ही अपना पहला कदम रखता है हो देखता है की वाही लड़की जो की अब M.A. में है और कार्यकर्म का सञ्चालन कर रही है उन्हें माला पहनाने के लिए आगे आती है तो दोनों एक दुसरे को पहचान जाते है और लड़की जल्दी से माला पहना कर भाग जाती है क्योकि उसे अपनी गलती का अहसास हो जाता है की कैसे उसने अपने टोपर होने के गर्व में एक कॉल सेंटर के लडके के सच्चे प्यार को ठुकराया और आज वह उसका टीचर है |

सच्चे प्यार की ताकत :

दोस्तों कहते है अगर प्यार टूटता है तो कहानिया बनती है लेकिन जब एक सच्चा प्यार टूटता है तो पूरा इतिहास बनता है. और यह बात सत्य भी है ज्यादातर महान लोग अपने प्यार को ही खोकर एकाग्रचित हुए है और नये नये मुकाम को हासिल किया है | हम सोच सकते है की किसी बड़े मुकाम को हासिल करना कितना मुश्किल होता है लेकिन सच्चा प्यार का टूटना सायद इससे ज्यादा मुश्किल होता है तभी तो लोग इसके दुःख में इने बड़े मुकाम आसानी से हासिल कर लते है |

दोस्तों अगर आपको यह स्टोरी अछि लगी है तो क्रप्या इसे अपने दोस्त के साथ शेयर करे जिससे हम को भी एक नई स्टोरी लिकने का अवसर मिले और आप हर रोज की तरह इसे एन्जॉय कर पाए |

Related post

Shayari in Hindi For Love | Latest Shayari in Hindi

धीरे धीरे बिखरने वाले हैं अब कहा ज़ख़्म भरने वाले हैं उसकी नज़रो में हम मर ही चुके अब तो सूली पे चढ़ने वाले है कितने मजबूर हुए हैं घर बहार निकले वाले हैं फिर वो सारी उम्र रुलाने लगे जिनके आसु बहुत संभाले हैं

Leave a Comment